E-commerce Business कैसे शुरू हुआ. हम इसे कैसे शुरू करें?

E-commerce business के बारे में हम आज आपको बताएगें. E-commerce के बारे में हमने इसके पहले वाले post में बताया था कि E-commerce क्या होता है?

अब इस post में हम E-commerce के क्रांति revolution के बारे में जानेंगे. E-commerce बस shopping करने की site नहीं है वो इससे भी अधिक है. इससे आप हर तरह का business कर सकते हैं.

E-commerce एक website से अधिक है-

हम लोगो में से बहुत से लोग e-commerce की बातें करते है. लेकिन जितना हम जानते है e commerce उससे  कहीं अधिक है. जब हम e commerce शब्द का प्रयोग करते है तो इसका मतलब ये की e-commerce एक website से बहुत अधिक है. यानि e-commerce से हम online कुछ भी बेच सकतें है यहाँ पे कोई boundation नहीं है.

E-commerce में हम कम employee के मदद से अधिक computer पे work करते हैं. किसी ऑफिस में आर्डर तैयार  करना. billing जैसे बहुत से काम (workers) करते हैं. लेकिन e-commerce में ये सभी काम computer software करते हैं इसमें बहुत कम लोगो की जरुरत पड़ती है.

E-commerce में क्या profit है-

  • अधिक मुनाफा (high income).
  • कम निवेश (low investment).
  • कम employee का होना.
  • संचार लागत में कमी.

E-commerce Business शुरू करे-

E-commerce businaiss kaise shuroo karen

आधुनिक युग में E-commerce की बात करें तो बहुत सारी Company’s इसमें आगे हो रही है. जैसे उदाहरण के लिए Amazon.in को ही ले लीजिए. E-commerce Website में Amazon का जाना माना नाम है. आप Amazon में Account बना कर Amazon के साथ Affiliate Marketing कर सकते हैं. और Amazon के साथ कमा सकते हैं.

अगर आप Product Sale Affiliate Marketing करते हैं तो आप बहुत सारी कम्पनियों के साथ जुड़ सकते है. और उसके साथ कमा सकते है. जैसे कि नीचे कुछ कम्पनियों Affiliate Marketing Services के नाम दिए गए हैं.

  1. Amazon.in Associates
  2. Flipkart Affiliate Program
  3. Snapdeal Affiliate
  4. PayTMMall Affiliate Program
  5. Affiliate – SheIn
  6. Click Bank

E-commerce revolution (क्रांति) कैसे हुई-

कभी अपने computer के fast speed की जरुरत महसूस किया है. सच में अगर आपका computer  2 सेकंड भी अधिक time ले लेता है. जवाब देने में तो आप परेशान  हो जाते है. इसलिए computer की स्पीड बढ़ने के लिए कंपनिया हमेशा नए-नए प्रयोग करती रहती हैं.

Computer के chip बनाने वाली कंपनी intel इसके लिए हमेशा प्रयोग करती है.

मुरे ने भविष्यवाणी की थी की हर 18 महीने में प्रोसेसिंग स्पीड दोगुनी होती जाएगी और लागत वही रहेगी ” ……… और अब ऐसा ही होता दिख रहा है.

लेकिन Computer को इतने स्पीड की जरुरत क्यों है ?

क्योंकि जैसे जैसे technology बढ़ रही है. वैसे वैसे computer की स्पीड को भी बढ़ाना जरुरी होता जा रहा. जैसे ही computer की स्पीड बढती है. उसी हिसाब से software भी design होते है.

पहले graphical User interface. फिर Internet और अब high defination (HD) video के आने से और स्पीड की जरुत पड़ने लगी. e-commerce की सफलता भी इन्टरनेट और computer के स्पीड के fast होने से हुई है.

Internet की Speed से-

E-commerce businaiss kaise shuroo karen

इन्टरनेट पर website में graphic लोड होने में बहुत Time लगता था. जब color. image. animation से भरी website लोड होती थी तो computer बहुत समय लगाता था. और एक बार फिर कंपनियों ने chip के स्पीड के साथ साथ इन्टरनेट की स्पीड भी बढाई. और फिर Internet के यूजर बढ़ने लगे.

online shopping का बढ़ता craze इन्टरनेट के स्पीड के साथ बढ़ता गया. आज Computer को on करते हैं और इन्टरनेट पे अपने पसंद के सामान को आर्डर करते हैं. और सामान कुछ समय बाद हमारे पास होता है छोटे शहरों में आज भी delivery में time लगता है. लेकिन बड़े सिटी में कुछ ही घंटो में ये सामान आपके पास आ जाता है.

India में इन्टरनेट की स्पीड बहुत अच्छी नहीं है. आप लोगो ने देखा होगा की जब हम रात को 11-12 बजे के बाद स्पीड बहुत अच्छी मिलती है और फिर सुबह 6 बजे के बाद स्पीड slow हो जाती है.

क्योंकि इस Time कम लोग नेट यूज़ करते हैं. इन्टरनेट पे किसी website से कनेक्ट होने में www(world wide web) को कम से कम 1 सेकंड का समय तो लगता ही है. जैसे जैसे नेट के स्पीड बढ़ेगे वैसे वैसे internet business भी बढेगा.

हमे उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा दी गई E-commerce की जानकारी अच्छी लगी होगी. आपका E-commerce Business Man बनने के बारे में क्या खयाल है. Comment Box में बताइए. 🙏

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.